उपमुख्यमंत्री ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ की समीक्षा बैठक, दिए ज़रुरी दिशा-निर्देश


उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ की समीक्षा बैठक, दिए ज़रुरी दिशा-निर्देश
उप-मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने माध्यमिक शिक्षा व उच्च शिक्षा के कार्यों की मंडलीय समीक्षा बैठक करते हुए शिक्षा अधिकारियों को निर्देशित किया कि माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की परीक्षा में परीक्षा केन्द्रों का चयन गंभीरता से किया जाए।उन्होंने कहा कि पूर्व में ब्लैक लिस्ट हुए केंद्रों को परीक्षा केंद्र न बनाया जाए। साथ ही चयन बोर्ड से चयनित होकर आने वाले नवनियुक्त शिक्षकों को समय से कार्यभार ग्रहण कराया जाए और यदि कोई प्रबंधक ज्वाइनिंग नहीं कराते हैं तो उनके विरुद्ध सख़्त कार्यवाहीं की जाएगी।



परतापुर हवाई पट्टी के कक्ष में माध्यमिक शिक्षा व उच्च शिक्षा के कार्यों की समीक्षा बैठक करते हुए उन्होंने संस्कृत शिक्षकों की नियुक्ति व कार्यभार ग्रहण करने के संबंध में जानकारी ली। निर्देश दिए कि पाठ्यक्रम भी समय से पूर्ण कराया जाए और कोई भी विद्यालय अर्द्धवाषिक परीक्षा परिणाम अपलोड़ करने में न छूटे।


नकल पर रहेगी सख़्ती


उपमुख्यमंत्री, माध्यमिक व उच्च शिक्षा मंत्री दिनेश शर्मा ने कहा कि प्रदेश सरकार ने नकल पर लगाम लगाई है। नकल कराने वाले लोगों को जेल भेजा है। जो परीक्षा केन्द्र ठीक प्रकार से कार्य नहीं कर रहे थे उनको ब्लैक लिस्टेड किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने नकलविहीन परीक्षाएं आयोजित कराई हैं और आगे भी नकलविहीन परीक्षाएं आयोजित कराई जाएंगी।

बैठक में कुलपति चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय प्रो एनके तनेजा, संयुक्त शिक्षा निदेशक ओमकार शुक्ला, क्षेत्रीय सचिव राणा सहसान्शु सुमन, जिला विद्यालय निरीक्षक मेरठ गिरजेश चौधरी, जिला विद्यालय निरीक्षक बागपत रविन्द्र कुमार, गाजियाबाद निशा अस्थाना आदि उपस्थित रहे है।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇