परिषदीय स्कूलों के पानी में बच्चों को करंट का खतरा, ऐसा हुआ इसलिए

कायमगंज। बेसिक शिक्षा विभाग के ज्यादातर स्कूलों में हैंडपंपों में ही सबमर्सिबल पंप लगा दिए गए हैं। इससे हैंडपंप से पानी पीते समय बच्चों को करंट लगने की आशंका बनी रहती है। सितंबर में एक प्राइवेट स्कूल में हैंडपंप में लगे सबमर्सिबल में करंट आने से छात्र की मौत हो गई थी। अधिकारियों को इसकी जानकारी है, इसके बावजूद कार्रवाई नहीं की जा रही है।






कायमगंज ब्लाक क्षेत्र के 221 स्कूलों में हैंडपंप में ही सबमर्सिबल पंप लगा दिए गए हैं। ज्यादातर बच्चे हैंडपंप चलाकर पानी पीते हैं। करंट से हादसे की आशंका से शिक्षक भी चिंतित हैं लेकिन उनके हाथ में कुछ नहीं है। उच्चतर कन्या प्राथमिक विद्यालय पितौरा की प्रधानाध्यापक सभा कुमारी ने बताया कि पांच माह पूर्व हैंडपंप में करंट आने लगा था प्रधान को सूचना देकर उसे दुरुस्त कराया था। प्राथमिक विद्यालय गोविंदपुर हाकिमपुर के सहायक अध्यापक श्रीकांत राजपूत ने कहा कि बच्चों को खतरा तो है, मगर क्या किया जा सकता है।



बीईओ राजीव श्रीवास्तव ने कहा, ज्यादातर स्कूलों में हैंडपंपों सबमर्सिबल लगा है। यह गलत है। इससे बच्चों को खतरा है। कोई भी घटना होती है तो उसको जिम्मेदारी शिक्षक पर आएगी पूरी जानकारी करने के बाद उच्चाधिकारियों को अवगत कराया जाएगा। 


 

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇