शासन ने तलब किया परिषदीय विद्यालयों में सफाईकर्मी एवं चौकीदार रखने का विवरण

 

शासन ने तलब किया परिषदीय विद्यालयों में सफाईकर्मी एवं चौकीदार रखने का वितरण 

वाराणसी : परिषदीय विद्यालयों में चौकीदार की कोई व्यवस्था नहीं हैं। इसके चलते स्कूलों में आए-दिन चोरियां होती रहती है। कभी इन्वर्टर की बैटरी तो कभी मिड-डे-मील का बर्तन गायब हो जाता है लेकिन अब ऐसा बिल्कुल नहीं होगा।शासन ने सभी विद्यालयों में संविदा पर सफाईकर्मी कम चौकीदार रखने का बड़ा निर्णय लिया है।



इस संबन्ध में बेसिक शिक्षा निदेशक ने समस्त जिलों के बीएसए से प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों में सफाईकर्मियों व चौकीदारों के संबंध में सूचना मांगी है। बीएसए बेसिक शिक्षा अधिकारी को एक सप्ताह के भीतर निर्धारित प्रोफार्मा पर शासन को सूचना भेजनी है।


इसमें विद्यालयों से स्वीकृत सफाईकर्मी व चौकीदार का विवरण भी मांगा गया है। हालांकि ज्यादातर परिषदीय विद्यालयों में सफाईकर्मी व चौकीदार का कोई पद नहीं हैं। ग्रामीण क्षेत्रों के विद्यालयों में ग्र्राम प्रधान स्तर पर कई विद्यालयों में साफ-सफाई की व्यवस्था की गई है। कुछ हेडमास्टर रसोईया को कुछ अतिरिक्त धनराशि देकर विद्यालय के साफ-सफाई का भी काम कराते हैं। इस प्रकार विद्यालयों की सफाई जुगाड़ से चल रही है। वहीं सुरक्षा व्यवस्था राम भरोसे चल रहा है। जबकि जनपद के 200 से अधिक अब विद्यालय कंप्यूटर व प्रोजेक्टर से लैस हो चुके है। ऐसे में कंप्यूटर चोरी होने का भय बना रहता है। कुछ विद्यालयों में चोरी भी हो चुकी है। इसे देखते हुए हेडमास्टर विद्यालयों में सफाईकर्मी के साथ चौकीदार रखने की मांग की थी। समझा जा रहा है हेडमास्टर की मांग पर शासन अब विद्यालयों में संविदा पर सफाईकर्मी कम सुरक्षा कर्मी रखने पर गंभीरता से विचार कर रही है। इस क्रम में सभी जनपदों से सूचनाएं मांगी गई है।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇