यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट परीक्षा आज से, 51.92 लाख स्टूडेंट्स देंगे एग्जाम

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट 2022 परीक्षा गुरुवार से शुरू हो रही है। दोनों कक्षाओं के 51.92 लाख परीक्षार्थियों के साथ ही परीक्षा संस्था के सामने सकुशल परीक्षा कराना बड़ी चुनौती है। नकल रोकने के प्रभावी इंतजाम किए गए हैं। संगठित नकल कराने वालों पर रासुका लगाने का प्रविधान है। परीक्षाएं 12 अप्रैल तक चलेंगी। वर्ष 2021 में कोविड संक्रमण के कारण बोर्ड की परीक्षाएं नहीं कराई गई थी, सभी परीक्षार्थियों को अगली कक्षा में प्रोन्नत किया गया था।





यूपी बोर्ड के परीक्षा केंद्रों की निगरानी के लिए हर कक्ष में सीसीटीवी कैमरे बोलकर होने वाली नकल रोकने के लिए वायस रिकार्डर लगाए गए हैं। इसके अलावा वेबकास्टिंग के माध्यम से मानीटरिंग करने के लिए डीवीआर के साथ राउटर लगे हैं। जिला मुख्यालयों के साथ ही राज्य स्तर पर कंट्रोल रूम बनाया गया है, जहां से वेबकास्टिंग के माध्यम से परीक्षा की कड़ी निगरानी होगी।

परीक्षा केंद्रों पर केंद्र व्यवस्थापक, कक्ष निरीक्षकों का इंतजाम पूरा हो चुका है। हर जिले में जिला प्रशासन की ओर से जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेटों की नियुक्त हुई है, जो भ्रमणशील रहकर परीक्षा को नकलविहीन कराएंगे। विभाग ने पांच सचल दस्तों का गठन किया है। इसके अलावा शासन व प्रशासन के उच्च अधिकारियों को नोडल अधिकारी बनाया गया है, जो गतिविधियों पर नजर रखेंगे ओर शासन को रिपोर्ट सौंपेंगे।



उत्तरपुस्तिकाएं व प्रश्नपत्र पहुंचाने का कार्य पूरा कर लिया गया है। सभी जिलों में क्रमांकित कापियों का प्रयोग हो रहा है। परीक्षाओं में नकल माफियाओं पर अंकुश लगाने के लिए एसटीएफ जैसी एजेंसी सक्रिय है, वहीं जिला विद्यालय निरीक्षक को गोपनीय सूचनाएं देने के लिए एलआइयू का इस्तेमाल किया जा रहा है।

यूपी बोर्ड परीक्षा तैयारी एक नजर में

हाईस्कूल परीक्षार्थी : 27,81,654
बालक : 15,53,198, बालिकाएं : 12,28,456
इंटर के परीक्षार्थी : 24,11,035
बालक : 13,24,200, बालिकाएं : 10,86,835
कुल परीक्षा केंद्र :  8,373
यूपी बोर्ड परीक्षा की समय सारिणी



हाईस्कूल परीक्षा 12 दिन चलेंगी। (सुबह 8.00 से 11.15 बजे तक)
इंटरमीडिएट की परीक्षा 15 दिन चलेंगी। (अपरान्ह 2.00 से 5.15 बजे तक)



यूपी बोर्ड परीक्षा से जुड़ी अन्य खास बातें

  • संवेदनशील व अति संवेदनशील केंद्रों की सख्त निगरानी, एलआइयू भी रहेगी सक्रिय।
  • सभी जिलों में परीक्षार्थी उपस्थिति पंजिका पर क्रमांकित कापियों का कोड भी डालेंगे।
  • जिन केंद्रों पर छात्राएं अपने ही स्कूल में परीक्षा देंगी वहां पर दूसरे कालेज का केंद्र व्यवस्थापक।
  • परीक्षा के दौरान सीसीटीवी कैमरे बंद होने या न चलने पर केंद्र व्यवस्थापक व अफसरों पर कार्रवाई।
  • अति संवेदनशील केंद्रों पर स्टेटिक मजिस्ट्रेट पूरे समय रहेगा, सचल दल के साथ पुलिस बल मौजूद होगा।
  • परीक्षार्थियों से अभद्रता नहीं होगी, नकल होने पर कक्ष निरीक्षक व केंद्र व्यवस्थापक पर कार्रवाई होगी।
  • नकल होने पर जिलाधिकारी, डीआइओएस व जेडी सामूहिक रूप से जिम्मेदार होंगे।




केंद्र व्यवस्थापक व कक्ष निरीक्षकों की आनलाइन ड्यूटी : बोर्ड परीक्षाओं में पहली बार साफ्टवेयर के माध्यम से केंद्र व्यवस्थापक, वाह्य केंद्र व्यवस्थापक व वाह्य कक्ष निरीक्षकों की तैनाती की गयी है, ताकि परीक्षा में पारदर्शिता व शुचिता बनी रहे। कुल 1,37,084 परीक्षा कक्षों में 2,74,168 कक्ष निरीक्षकों की तैनाती की गयी है, जिसमें 50 प्रतिशत वाह्य कक्ष निरीक्षक हैं। ये प्रयोग सफल होना बड़ी चुनौती है, क्योंकि इसके पहले परीक्षार्थियों की हाजिरी का मोबाइल एप फेल हो चुका है और इस बार घोषित होने से पहले ही परीक्षा कार्यक्रम भी लीक हुआ है।


आम लोग कर सकते इनका इस्तेमाल : जन सामान्य की सुविधा के लिए ई-मेल वाट्सएप, ट्विटर, फेसबुक, हेल्प लाइन व फैक्स नंबर जारी किए गए हैं जो निम्नवत् है -

ई-मेल : upboardexamwww@gmail.com
फेसबुक : pboard Exam
वाट्सएप : 8840850347
ट्विटर :@upboardexam
हेल्पलाइन नंबर : प्रयागराज- 18001805310, 18001805312
लखनऊ : 18001806607, 18001806608
फैक्स नबर : 0522 2237607

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇