केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने कहा: 69 हजार शिक्षक भर्ती मामले में समस्याओं का जल्द होगा समाधान, पिछड़ों और दलितों का भाजपा में ही सम्मान  

केंद्रीय मंत्री धमेंद्र प्रधान ने कहा कि पिछड़ों और दलितों का सम्मान और हित भाजपा में ही है। बाकी दल केवल परिवारवाद और खुद की तरक्की के लिए काम करते हैं। ये दल पिछड़ों तथा दलितों के साथ केवल छलावा करते हैं। कहा कि प्रदेश के 69 हजार शिक्षकों की भर्ती मामले में जो समस्याएं हैं, उनका सुखद समाधान बहुत जल्द मिलेगा।



वे बलिया से शुरू जन विश्वास यात्रा के मंगलवार को मऊ के घोसी क्षेत्र के भिखारीपुर पहुंचने पर आयोजित जनसभा में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। महिलाओं से संवाद करते हुए उन्होंने पूछा कि उज्ज्वला योजना और निशुल्क अनाज योजना का लाभ उन्हें मिल रहा है या नहीं, महिलाओं ने जवाब दिया कि मिल रहा है।


उन्होंने कहा कि किसान सम्मान निधि योजना, घर-घर बिजली समेत जनहित की 72 योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। पूर्वांचल में कई फोरलेन और सिक्सलेन रोड का निर्माण कराया जा रहा है। विभिन्न विभागों में रिक्त पदों पर भर्ती निकालकर नौजवानों को नौकरियां दी जा रही हैं। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में तेजी से विकास हो रहा है।
अपराधों  में कमी आई है। उन्होंने कहा कि जो पार्टियां पिछड़ों का हितैषी होने का दावा करती हैं, वास्तव में वे अपने परिवार के हित को प्राथमिकता देती हैं। पिछड़ों का हित उन्हें दिखाई नहीं देता है। दावा किया कि भाजपा ही ऐसी पार्टी है जो पिछड़ों और दलितों को सम्मान देते हुए उन्हें राज्यपाल और राष्ट्रपति जैसे महत्वपूर्ण पदों पर विराजमान करती है।

पूर्व सांसद हरिनारायण राजभर ने कहा कि ओमप्रकाश राजभर बियार जाति के होते हुए अपने को राजभर बताते हैं। वह राजभर समाज को धोखा दे रहे हैं। कहा कि पिछली बार विधानसभा चुनाव में भाजपा ने उन्हें आठ सीटें दी थीं, उनमें से उन्होंने दो सीटें अपने परिवार के लिए रख लीं। कहा, वह केवल अपना हित साधते हैं, राजभर समाज के हित से उनका कोई लेना-देना नहीं है। वह मुख्तार अंसारी के आदमी हैं। अनिल राजभर ने भी ओपी राजभर पर कई कटाक्ष किए। 


👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇