अधर में प्राथमिक शिक्षक भर्ती सचिव बेसिक शिक्षा को सौंपा ज्ञापन:- पद सर्जन को लेकर कमेटी की रिपोर्ट पर सवाल


परिषदीय स्कूलों में शिक्षक बनने का सपना देख रहे अभ्यर्थियों का इंतजार खत्म नहीं हो रहा है। बेसिक शिक्षा विभाग में शिक्षकों के नए पद, शिक्षक- छात्र अनुपात के संबंध में मुख्यमंत्री ने कुछ माह पूर्व तीन सदस्यीय कमेटी गठित की थी, लेकिन कमेटी की रिपोर्ट अभी तक नहीं आई। इस बीच नई शिक्षक भर्ती घोषित करने की मांग को लेकर अभ्यर्थियों ने अभियान छेड़ रखा है।





मंगलवार को एक प्रतिनिधिमंडल सचिव बेसिक शिक्षा से मिला और ज्ञापन दिया।प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व कर रहे पंकज मिश्रा ने बताया कि प्रतिनिधिमंडल ने बेसिक शिक्षा कार्यालय में अफसरों से मिलकर तीन सदस्यीय कमेटी की रिपोर्ट के बारे में जानकारी ली।



उनका दावा है कि अफसरों ने जल्द ही रिपोर्ट प्रस्तुत करने का हवाला दिया। अभ्यर्थियों ने कहा कि विधानसभा चुनाव आचार संहिता के कुछ दिन ही शेष हैं। प्रशिक्षितों को जैसा अंदेशा था, वही हो रहा है। पहले 28 नवंबर यूपीटेट का रद्द होना उसके पश्चात यूपीटेट की देरी से कराना यह साफ जाहिर करता है प्रदेश सरकार नई प्राथमिक शिक्षक भर्ती नहीं कराना चाहती है।


अगर सरकार भर्तियां नहीं दे सकती है तो साल दर साल प्रशिक्षण क्यों करा रही है। करीब 8-10 लाख प्रशिक्षित टीईटी और सीटीईटी पास हैं।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇