लोकेशन में अनुपस्थित मिलने पर शिक्षकों का वेतन होगा अवरुद्ध

मऊ। बेसिक शिक्षा विभाग से संबद्ध परिषदीय विद्यालयों में तैनात कई शिक्षकों की लेट लेतीफी भारी पड़ सकता है। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय से नामित स्टाफ द्वारा प्रतिदिन शिक्षकों का लोकेशन ली जा रही है। लोकेशन के समय शिक्षकों के अनुपस्थित मिलने पर एक दिन का वेतन रोकने के साथ ही वेतन वृद्धि रोकने का फरमान जारी किया है। बीएसए के फरमान से शिक्षकों में हड़कंप की स्थिति है।


जिले में 1208 परिषदीय विद्यालयों में करीब पांच हजार से अधिक शिक्षकों की तैनाती की गई है। कतिपय शिक्षकों की अनियमित दिनचर्या से शैक्षिक गुणवत्ता पर असर पड़ रहा है। शिक्षण व्यवस्था में गुणात्मक सुधार तथा शिक्षकों की नियमित उपस्थिति के लिए बेसिक शिक्षा विभाग की तरफ से नामित स्टाफ द्वारा शिक्षकों का प्रतिदिन लोकेशन दिया जा रहा है। लोकेशन में कई शिक्षक निर्धारित समय से विद्यालय नहीं पहुंच रहे हैं यह प्राय देखने को आ रहा है।

बीएसए ने मामले को गंभीरता से लेते हुए लापरवाह शिक्षकों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। विभागीय निर्देश में लिखा है कि लोकेशन लेेने के समय कोई अध्यापक, शिक्षामित्र, अनुदेशक अनुपस्थित पाया जाता है तो उसका अनुपस्थित तिथि का वेतन, मानदेय अवरुद्ध किया जाएगा। बार-बार अनुपस्थित पाए जाने पर एक वेतन अवरुद्ध कर दिया जाएगा।
इस बाबत बीएसए डॉ. संतोष कुमार सिंह का कहना है कि कार्य में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। लोकेशन में शिक्षक, अनुदेशक, शिक्षामित्र अनुपस्थित पाया जाता है तो एक दिन का वेतन रोका जाएगा। बार-बार अनुपस्थित पाए जाने पर एक वेतन वृद्धि रोकी जाएगी।


👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇