पूर्व बीएसए की प्रताड़ना से लगाया मौत का आरोप


कन्नौज जिले की एक पूर्व बीएसए पर कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय की वार्डेन को प्रताड़ित कर मारने का आरोप लगाया है। पति ने मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के यहां शिकायत दर्ज कराई है। अदालत ने सुनवाई के लिए पांच अगस्त की तारीख मुकर्रर की है।



फतेहपुर के बिंदकी थाना क्षेत्र के नदी कोचकपुर निवासी सुशील सिंह उत्तर प्रदेश परिवहन विभाग में बीसी (बाबू) पद पर तैनात हैं। मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के यहां 1563 के तहत दिए शिकायती पत्र में कहा है कि 52 वर्षीय पत्नी रागिनी गीतम कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय तेराजाकेट तालग्राम में वर्ष 2006 से तैनात थी किसी बात को लेकर तत्कालीन एक महीने से प्रताड़ित कर रहीं थीं। पत्नी ने इसकी जानकारी फोन पर दी थी। सुशील • सिंह का आरोप है कि 21 अक्तूबर 2021 को मीटिंग के दौरान पत्नी को अपमानित किया था। उसके बाद आठ नवंबर को रात नौ बजे बीएसए ने आवासीय विद्यालय का निरीक्षण किया। उस दौरान अपमानित किया जिससे वार्डेन रागिनी गौतम को हार्ट अटैक से मौत हो गई। पति ने बताया कि एक दिसंबर 2021 को थाना गुरसहायगंज में रिपोर्ट दर्ज कराने को प्रार्थना पत्र दिया, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। तीन दिसंबर को एसपी को पंजीकृत डाक से भेजा, लेकिन सुनवाई नहीं हुई। मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने सुनवाई के लिए अब पांच अगस्त को बादी को बुलाया है 

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇