स्कूल में आजीविका मिशन के तहत काम करने वाली तीन महिलाओं को स्कूल परिसर में बंद करने के मामले में प्रधान शिक्षक निलंबित



 गंजमुरादाबाद उत्तर प्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत काम करने वाली तीन महिलाओं को स्कूल परिसर में बंद करने के मामले में प्रधान शिक्षक को निलंबित कर दिया गया है।


उत्तर प्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत समूह का गठन करने वाली टीम की सदस्य प्रीती मौर्या, वंदना सिंह और मायादेवी बुधवार को गंजमुरादाबाद ब्लाक गई थीं।

उन्हें गांव जसरापुर के प्राथमिक विद्यालय में रुकने की अनुमति दी गई थी। समूह की तीनों महिलाओं का आरोप था कि पहले तो उन्हें स्कूल के शिक्षकों ने कमरे में समान रखने नहीं दिया था। बाद में मुख्य गेट पर बाहर से ताला लगाकर स्कूल के भीतर बंद कर दिया था। खंड शिक्षा अधिकारी के हस्तक्षेप के बाद महिलाओं को बाहर निकाला गया था।

अमर उजाला ने इस खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया था। इसका संज्ञान बीएसए संजय तिवारी ने लिया उन्होंने बताया कि प्रधान शिक्षक उमाशंकर और एनआरएलएम की महिलाओं के बीच विद्यालय में रुकने को लेकर मनमुटाब हुआ था। महिलाओं के अंदर होने के बाद भी बाहर से ताला बंद कराया गया।

 

इस मामले में प्रधान शिक्षक उमाशंकर को निलंबित कर दिया गया है। अनुशासनात्मक कार्रवाई के लिए बीईओ मुख्यालय को पदेन जांच अधिकारी नामित किया गया है।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇