BSA ने अवैध वसूली के आरोप में शिक्षक नेता को किया निलंबित, शिक्षिका से फोन पर मांगे थे रुपये

फिरोजाबाद के खैरगढ़ ब्लॉक में शिक्षिकाओं से वसूली के मामले में एक शिक्षक नेता को बीएसए ने निलंबित कर दिया है। आरोपी का ऑडियो बीएसए अंजली अग्रवाल को उपलब्ध कराया गया था। इसके बाद बीएसए ने कार्रवाई की। शिक्षक नेता के अवैध वसूली के आरोप में निलंबित होना चर्चा का विषय बना हुआ है।



खैरगढ़ ब्लॉक के प्राथमिक स्कूल नगला भवानी घनश्याम में तैनात प्रधानाध्यापक मुकेश कुमार की बीते दिनों बीएसए से शिकायत की गई थी। ये एक शिक्षक संगठन में ब्लॉक अध्यक्ष पद हैं। शिकायतकर्ता ने एक ऑडियो भी शिक्षाधिकारियों को सौंपा। इसमें शिक्षक नेता द्वारा एक शिक्षिका से धनराशि की मांग की जा रही है। शिक्षिका के स्कूल में निरीक्षण के दौरान कुछ कमियां पाई गई थी। शिक्षक नेता मामले के निस्तारण के नाम पर ही शिक्षिकाओं से धनराशि मांग रहे थे। 
खंड शिक्षाधिकारी का सौंपी जांच 
ऑडियो मिलने पर इस मामले में बीएसए अंजलि अग्रवाल ने मुकेश कुमार को निलंबित करते हुए मूल स्कूल से संबद्ध कर दिया है। इस पूरे मामले की जांच खंड शिक्षाधिकारी शिकोहाबाद रामशंकर कुरील को सौंपी है। इस कार्रवाई से कई शिक्षक नेताओं में खलबली है। बीएसए अंजली अग्रवाल ने बताया कि शिक्षक मुकेश कुमार के खिलाफ अवैध वसूली की शिकायत आई थी। शिक्षक को निलंबित कर दिया है।
गोपनीय तरीके से हुई शिकायत
विभागीय सूत्रों के अनुसार, मामले में शिकायत भी काफी गोपनीय ढंग से हुई। अधिकांश मामले में ऑडियो वायरल होने के बाद में कार्रवाई होती है, लेकिन इस मामले में ऑडियो कहीं भी वायरल नहीं हुआ। शिक्षाधिकारियों द्वारा भी ऑडियो की जांच कराई जा रही है। निलंबन पत्र देखने के बाद अन्य शिक्षक संगठन के नेता भी आश्चर्यचकित हो गए। हालांकि जिस संगठन में शिक्षक ब्लॉक अध्यक्ष है, वह संगठन भी शिक्षक को बाहर का रास्ता दिखाने की रणनीति बनाने में जुट गया है।
पहले भी लगे हैं ऐसे आरोप
अक्सर बीआरसी पर शिक्षक नेताओं को देखा जाता है। कुछ शिक्षक नेता शिक्षाधिकारियों के साथ अक्सर दिखाई देते हैं। बीते दिनों जसराना ब्लॉक में एक शिक्षक नेता पर शिक्षामित्र से वसूली के आरोप लगे थे। हालांकि मामला रफा-दफा हो गया।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇